संतान सुख देने वाली देवी मां मावली,भाटापारा,सिंगारपुर(छ.ग)

                       मावली माता मंदिर, सिंगारपुर
                संतान सुख देने वाली देवी मां मावली,भाटापारा,सिंगारपुर(छ.ग)

पता – छत्तीसगढ़ के बालौदाबाजार भाटापारा शहर से लगभग 12 किलोमीटर दूर ग्राम सिंगारपुर में विराजमान है मां मावली।

प्रवेश द्वार – मावली माता मंदिर के प्रवेश द्वार को बहुत ही सुंदर बनाया गया है।

गर्भगृह – सिंगारपुर के प्रसिद्ध मां मावली मंदिर के गर्भगृह में विराजमान हैं मां मावली।

संतान सुख देने वाली देवी मां मावली,भाटापारा,सिंगारपुर(छ.ग)

400 साल पुरानी मूर्ति – कहा जाता है कि इस मंदिर में मां की मूर्ति हैं वह 400 साल पुरानी है।

संतान सुख देने वाली देवी मां मावली,भाटापारा,सिंगारपुर(छ.ग)

संतान सुख की प्राप्ति – संतान संबधी मनोकामना को पुरी करने वाली देवी को मां मावली के नाम से जाना जाता है।मनोकामना पूर्ति के लिए यहां देश विदेश से श्रद्धालु मां मावली के दर्शन के लिए आते हैं।

संतान सुख देने वाली देवी मां मावली,भाटापारा,सिंगारपुर(छ.ग)

मनोकामना ज्योति – मावली माता मंदिर में चैत्र व कुंवार में भक्तो के द्वारा भारी संख्या में मनोकामना ज्योति जलाई जाती हैं।

संतान सुख देने वाली देवी मां मावली,भाटापारा,सिंगारपुर(छ.ग)

नवरात्रि पर्व पर –  मां मावली के मंदिर में हर साल नवरात्र में मां मावली का विशेष श्रृंगार किया जाता है जिसे देखने के लिए पूरे नौ दिन भक्तों का तांता लगा रहता है।पिछले कुछ वर्षों से समिति द्वारा नवरात्रि के अवसर पर मावली महोत्सव का आयोजन किया जाता है। जिससे भारी संख्या में लोग यहां आते हैं।

जल कुंड के संबंध में –  मां मावली के मंदिर के इस कुंड कि ऎसी
मान्यता है कि इस जलकुंड के पानी में नहाने के बाद और मां मावली के दर्शन करने से रोग या दोष सहित सभी दुःख दर्द दूर हो जाते हैं।

बलि की प्रथा पर रोक – पहले इस मंदिर में प्रत्येक नवरात्रि के नवमी के दिन मां मावली के समक्ष बलि चढ़ाए जाने की प्रथा थी, लेकिन पिछले कुछ वर्षों से जैन साधुओं के अनुरोध और प्रशासन के हस्तक्षेप से बलि चढ़ाने का कार्य बंद कर दिया गया है।

आराध्य देवी – गोड़ समाज ने लोग मां मावली को आराध्य देवी मानते हैं।प्राचीन काल से ही गोड़ जाति के पुजारी ही मां की पूजा अर्चना किया करते थे, और आज भी मावली मां की पूजा अर्चना उन्हीं गोड़ पुजारियों के वंशज आज भी करते आ रहे हैं। अब यहां ज्योति कलश का महत्व बड़ गया है।

संतान सुख देने वाली देवी मां मावली,भाटापारा,सिंगारपुर(छ.ग)

सुंदर कलाकृति – मंदिर के दीवारों में कलाकृति का सुंदर नमूना  बनाया गया है। जो लोगो को काफी पसंद आ रहा है।

अन्य मूर्ति – मावली माता के मंदिर में आपको सभी देवी, देवताओं व संत की मूर्ति बनाया गया है। जिससे आप एक साथ सभी के दर्शन कर सकते हैं।

बालाजी की प्रतिमा – मां मावली के मंदिर परिसर में कुछ दूर पर तिरुपति बालाजी की प्रतिमा स्थापित की गई है यहां की आरती  मन को सुकून का अनुभव करती हैं।

संतान सुख देने वाली देवी मां मावली,भाटापारा,सिंगारपुर(छ.ग)

उद्यान –मां मावली मंदिर के कुछ दूर पर एक सुंदर उद्यान बनाया गया है जिससे आप इस उद्यान में यहां घूम सकते हैं।

लक्ष्मी नारायण का मंदिर – साहू समाज की ओर से लक्ष्मी नारायण मंदिर का निर्माण किया गया है।

कृष्ण का मंदिर – यादव समाज की ओर से कृष्ण मंदिर का निर्माण किया गया है।

         Youtube channel – Hitesh kumar hk

यह पोस्ट आपको अच्छा लगा है तो आप अपने दोस्तों और फैमिली के बीच अधिक से अधिक शेयर कर इस मंदिर की जरूरी जानकारी उनके पास पहुंच सके।आप इस मंदिर के बारे में जानते है तो हमें नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं।

                     !! जय जोहार जय छत्तीसगढ़ !!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *