साल में 3 बार रंग बदलने वाला अद्भुत शिवलिंग,छत्तीसगढ़ का सोमनाथ Somnath temple raipur chattisgarh

( नोट – हिंदी और इंग्लिश में जानकारी प्राप्त करे )

हैलो दोस्तो मेरा नाम है हितेश कुमार इस पोस्ट मैं आपको सिमगा के सोमनाथ मंदिर के बारे जानकारी देने वाला हूं। ये जानकारी अच्छा लगे तो कमेंट जरूर करे।

   सोमनाथ मंदिर, सिमगा रायपुर
साल में 3 बार रंग बदलने वाला अद्भुत शिवलिंग,छत्तीसगढ़ का सोमनाथ  Somnath temple chattisgarh
सोमनाथ मंदिर
पता – यह छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से बिलासपुर सडक़ मार्ग पर शिवनाथ और खारून नदी का संगम स्थल पर भूमिया-सांकरा ग्राम में के पास स्थित प्रसिद्ध सोमनाथ मंदिर।
 
 
 
गर्भगृह – मंदिर के गर्भगृह में विराजमान हैं स्वयं भू शिवलिंग जिसकी ऊंचाई लगभग 3 फिट कि है और यह शिवलिंग धीरे धीरे बढ़ता ही रहा है जिसके दर्शन मात्र से भक्तों की सारी मनोकामाना पूर्ण हो जाती है।
साल में 3 बार रंग बदलने वाला अद्भुत शिवलिंग,छत्तीसगढ़ का सोमनाथ  Somnath temple chattisgarh
सोमनाथ शिवलिंग

सुंदर कलाकृति –
सोमनाथ मंदिर में सुंदर सुन्दर नृत्यांगनाओ और प्राचीन मूर्तियों के दर्शन होते हैं जो इस मंदिर को और भी सुंदर बनती है।


सावन पर्व में –सावन महिने के प्रत्येक सोमवार को अधिक संख्या में कांवरिया सोमनाथ मंदिर पहुंचकर शिवलिंग का जलाभिषेक करते हैं।इस मंदिर में हर हर महादेव की ध्वनि इस मंदिर परिसर में गूंज उठती है।
 
 
 
पिकनिक स्पॉट –सोमनाथ का मंदिर एक सुंदर पिकनिक स्पॉट है। और यह प्राकृतिक सौंदर्य से  घिरा हुआ है और यहां आने पर पर्यटक नौका विहार का आनंद भी ले सकते हैं।
 
 
प्राचीन शिवलिंग –सोमनाथ का जो शिवलिंग है वह कई हजारों सौ साल पुराना प्राचीन शिवलिंग है और यह शिवलिंग रेत से बना हुआ है और यह शिवलिंग खुदाई से निकला हुआ है।
 
 
महाशिवरात्रि पर्व में –महाशिवरात्री के पावन पर्व में इस सोमनाथ मंदिर में भोले बाबा के दर्शन के लिए भक्तों की भारी भीड़ देखने को मिलती हैं और यहां माघी पुन्नी और महाशिवरत्रि को भव्य मेला भी लगता है।
 
 
3 बार बदलता है शिवलिंग का रंग –साल में 3 बार ठंड, गर्मी और बरसात के मौसम में बदलता है इस शिवलिंग का रंग।
 
 
अन्य मंदिर – सोमनाथ मंदिर के पास ही हनुमान जी, श्री कृष्ण राधा और राम जानकी का भी मंदिर है।
 
 
नदी के बीच में  है प्राचीन शिवलिंग – प्रकृति की गोद में बसा यह सोमनाथ मंदिर काफी प्राचीन है जिसका अपना एक पुरातात्विक महत्व भी है क्योंकि संगम पर स्थित सोमनाथ महादेव का यह मन्दिर एक ऊंचे टीले पर स्थित है जो उत्खनन के समय प्राप्त हुआ था। इतना ही नहीं शिवनाथ और खारुन के पवित्र संगम के मध्य भी एक मंदिर स्थित है इसके बारे में बताया जाता है कि यहां गंगा महाशिवरात्रि जैसे विशेष अवसरों पर भक्तों की उपस्थिति देखते ही बनती है।
 
      भोले बाबा आपकी मनोकामना को पूर्ण करे
        !! ओम नमः शिवाय !!
 
हमने यूट्यूब में सिमगा के प्रसिद्ध सोमनाथ मंदिर का वीडियो बनाया है जिसे देखे और चैनल को सब्सक्राइब जरूर कर दे-
   Youtube channel – hitesh kumar hk

यह पोस्ट आप को अच्छा लगे या इसके बारे में अधिक जानकारी है तो नीचे कॉमेंट करके जरूर बताए।

जय जोहार जय छत्तीसगढ़

Hello friends my name is Hitesh Kumar in this post, I am going to give you information about Somnath temple of Simga. If you like this information, then please comment.

Somnath Temple, Simga Raipur

Address- This famous Somnath temple located near Bhumiya-Sankra village at the confluence of Shivnath and Kharun rivers on Raipur to Bilaspur road route.

Garbha Griha – The shrine lingam itself is situated in the sanctum sanctorum of the temple which is about 3 feet in height and this shivlinga has been growing slowly, whose vision fulfills all the wishes of the devotees.

Artwork – Somnath temple has beautiful beautiful dances and ancient idols which make this temple even more beautiful

In the Sawan festival – every Monday of the month of Savan, a large number of Kanwarias reach the Somnath temple and offer prayers to the Shivalinga. The sound of every Har Mahadev in this temple resonates in this temple complex.

Picnic Spot – The temple of Somnath is a beautiful picnic spot. And it is surrounded by natural beauty and tourists can also enjoy boating when visiting here.

Ancient Shivling – The Shiva lingam of Somnath is an ancient Shivalinga that is several thousands of hundred years old and it is made of Shivling sand and it is derived from the excavation of Shivalinga.

In Mahashivratri festival – In the holy festival of Mahashivratri, this Somnath temple attracts huge crowds of devotees to see Bhole Baba and a grand fair is organized here on Maghi Punni and Mahashivaratri.

The color of Shivling changes 3 times – The color of this Shivling changes 3 times in a year in cold, summer and rainy seasons.

Other Temples – There is also a temple of Hanuman ji, Shri Krishna Radha and Ram Janaki near the Somnath temple.

Ancient Shivalinga – Nestled in the lap of nature, this Somnath temple is quite ancient which also has its own archaeological significance because this temple of Somnath Mahadev situated at the confluence is situated on a high mound which was found at the time of excavation. Not only this, a temple is also situated between the holy confluence of Shivnath and Kharun, it is said that Ganga is seen here on the special occasions like Mahashivratri on seeing the presence of devotees.

Bhole Baba fulfill your wish!!

Om Namah Shivaya !!

We have made a video of Simga’s famous Somnath temple in YouTube, watch it and subscribe to the chennel.

Youtube chennel – hitesh kumar hk

If you like this post or know more about it, then please comment by commenting below. Jai johar jai Chattisgarh

Hitesh

हितेश कुमार इस साइट के एडिटर है।इस वेबसाईट में आप छत्तीसगढ़ के कला संस्कृति, मंदिर, जलप्रपात, पर्यटक स्थल, स्मारक, गुफा और अन्य रहस्यमय जगह के बारे इस पोस्ट के माध्यम से सुंदर और सहज जानकारी प्राप्त करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!