रहस्यों से भरा है खुड़िया रानी मंदिर ।khudiya rani temple jashpur

नोट – हिंदी और इंग्लिश में जानकारी प्राप्त करे।

हैलो दोस्तों मेरा नाम है हितेश कुमार इस पोस्ट में मैं आपको छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले के खुड़िया रानी मंदिर के बारे में जानकारी देने वाला हूं। ये जानकारी अच्छा लगे तो कमेंट और शेयर जरूर करे

खुड़िया रानी मंदिर,जशपुर

पता – दोस्तों खुड़िया मंदिर जशपुर जिले के छिछली नामक ग्राम में स्थित है यह बगीचा ब्लॉक के अंतर्गत आता है ।

दूरी – जशपुर से लगभग 85किलोमीटर की दूरी पर व बगीचा से लगभग 10 किलोमीटर की दूरी है खुड़िया रानी का मंदिर है।

सीढ़ी – दोस्तों मंदिर तक पहुंचने के लिए आपको 400 सीढ़ी नीचे उतरना पढ़ता है।

मन्नत के लिए प्रसिद्ध – दोस्तों खुड़िया रानी का मंदिर मन्नत के लिए प्रसिद्ध है यहां नवरात्रि में बहुत बड़ा मेला लगता है। जिसे देखने के लिए श्रद्धालु दूर दूर से इस मंदिर में पहुंचते है।

गुफा के अंदर विराजमान है देवी – दोस्तों यहां पर एक गुफा है जिसके अंदर माता विराजमान है और यहां पर एक जलप्रपात भी है। जो पहाड़ के बीचों बीच बहती है।

गुफा के मुख्य द्वार पर – दोस्तों गुफा के मुख्य द्वार के अंदर अन्य देवी देवताओं की प्रतिमा है जैसे माँ शिरंगी, भैरव बाबा,काली माता,शिव और नंदी की प्रतिमाएँ है।

बलि प्रथा – दोस्तों खुड़िया रानी के मंदिर में मनोकामना पूरी होने पर नारियल या बकरे का बलि दिया जाता है।

हजारों वर्षों पुराना मंदिर – दोस्तों पत्थर बताती है यहां का रहस्य यह जो मंदिर है वह हजारों साल पुराना बताया जाता है।

माता खुड़ियारानी मंदिर का इतिहास –दोस्तों इस माता खुड़िया रानी की पूजा अर्चना बैगा के द्वारा गुफा के बाहर ही किया जाता है। यहां की ऐसी मान्यता है कि प्राचीन समय में गुफा के अंदर ही पूजा अर्चना की जाती थी परन्तु एक बार बैगा पूजा कर के भोग चढाने के बाद ही गुफा के बाहर निकल गया तभी उसे याद आया कि वह अपना औजार भूल गया है तब वह फिर से गुफा के अंदर औजार लेने वापस गया उस समय देवी भोग ग्रहण कर रही थी, तभी बैगा को देख कर माता जी क्रोधित हो गई तब से ही वहां के कपाट बंद हो गए। इसी कारण वर्तमान में गुफा के बाहर से ही माता जी की पूजा अर्चना की जाती है।

हमने यूट्यब में खुड़िया रानी मंदिर का विडियो बनाया है जिसे देखे और चैनल को सब्सक्राइब जरूर करे

youtube channel – dk 808

यह पोस्ट आपको अच्छा लगे या इसके बारे में जरूरी जानकारी है तो हमे कमेंट कर जरूर बताएं।

जय जोहार जय छत्तीसगढ़

Hello friends, my name is Hitesh Kumar, in this post I am going to give you information about Khudia Rani temple in Jashpur district of Chhattisgarh. If you like this information then do comment and share

khudiya rani temple jashpur

Address – Friends, Khudia Temple is located in a village named Chichli in Jashpur district, it comes under Garden Block.

Distance – About 85 kilometers from Jashpur and about 10 kilometers from the garden is the temple of Khudia Rani.

Ladders – Friends, you have to descend 400 stairs to reach the temple.

Famous for vows – Friends, the temple of Khudiya Rani is famous for vows, here a big fair is held in Navratri. To see which devotees reach this temple from far away.

At the main entrance of the cave – Friends, inside the main entrance of the cave there are statues of other deities such as Maa Shirangi, Bhairav ​​Baba, Kali Mata, Shiva and Nandi.

Sacrifice – In the temple of friends, a coconut or a goat is sacrificed on the fulfillment of the wish.

Thousand years old temple – Friends stone tells the secret of this temple which is said to be thousands of years old.

History of Mata Khudiarani Temple – Friends, this Mata Khudia Rani is worshiped outside the cave by Archana Baiga. It is such a belief that in ancient times worship was done inside the cave, but once Baiga went out of the cave only after worshiping and offering food, only then he remembered that he had forgotten his tool, then he again Went back to take the tools inside the cave, at that time the goddess was enjoying the food,Then the mother got angry seeing Baiga, since then the doors of the place were closed. That is why at present the worship of Mata ji is done from outside the cave itself.

We have made a video of Khudia Rani Mandir in youtube, watch it and subscribe to the channel

youtube channel – dk 808

If you like this post or have important information about it, then definitely tell us by commenting.

jai Johar jai chhattisgarh

Hitesh

हितेश कुमार इस साइट के एडिटर है।इस वेबसाईट में आप छत्तीसगढ़ के कला संस्कृति, मंदिर, जलप्रपात, पर्यटक स्थल, स्मारक, गुफा , जीवनी और अन्य रहस्यमय जगह के बारे में इस पोस्ट के माध्यम से सुंदर और सहज जानकारी प्राप्त करे। जिससे इस जगह का विकास हो पायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!