कृष्ण जन्माष्टमी उत्सव 2021 lKrishna Janmashtami Festival 2021

नोट – हिंदी और इंग्लिश में जानकारी प्राप्त करे।

हैलो दोस्तो मेरा नाम है हितेश कुमार इस पोस्ट में मै आपको कृष्ण जन्माष्टमी के बारे में जानकारी देने वाला हूं आइए जानते है इस पर्व के बारे में विस्तार से ।

कृष्ण जन्माष्टमी उत्सव 2021

कृष्ण जन्माष्टमी भारत में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी इस पर्व को बड़े धूम धाम के साथ मनाते है और इस दिन भगवान कृष्ण जी की आराधना करते है।

कृष्ण जन्माष्टमी कब है – दोस्तों कृष्ण जन्माष्टमी 30 अगस्त सन् 2021, दिन – सोमवार को कृष्ण जन्माष्टमी का पावन पर्व है।

जन्माष्टमी कब मनाई जाती है – दोस्तों जन्माष्टमी हिन्दू पंचाग के अनुसार श्रावण मास की पुर्णिमा के बाद आने वाले आठवे दिन को ही यह कृष्ण जन्माष्टमी मनाई जाती है।

जन्माष्टमी की कथा – दोस्तों भागवत पुराण के अनुसार कंस को आकाश से एक भविष्य वाणी हुई की देवकी की आठवी संतान ही ही तुम्हारी मृत्यु का कारण बनेगा। यह भविष्य वाणी सुनने के बाद देवकी और वसुदेव को काल कोठरी में बंद कर दिया। जैसे ही कंस ने सुना की देवकी का पुत्र हुआ है उसे मारने के लिये कंस आ जाते और इसी प्रकार देवकी के सातवे संतान को भी मार दिया लेकिन आठवी संतान के जन्म लेने के बाद भगवान श्री कृष्ण को सुरक्षित रखने के लिए अपने प्रिय मित्र नन्द बाबा के घर छोड़ दिए। और इसी प्रकार श्री कृष्ण पालन पोषण यशोदा और नंद बाबा ने किया भगवान श्री कृष्ण का पूरा बचपन गोकुल मे बीता. उन्होंने अपने बचपन में अनेक लीलाएं रचाए और अपने कंस मामा का वध किया व कंस के चंगुल से अपने माता पिता का छुड़ाया।

जन्माष्टमी के अनेक नाम – दोस्तों जन्माष्टमी के अनेक नामों से जाना जाता है जैसे – कृष्णाष्टमी,अष्टमी रोहिणी,रोहिणी अष्टमी,श्री जयंती,गोकुलाष्टमी, कृष्ण जयंती l

दही हांडी का आयोजन – दोस्तों देश के कोने कोने में दही हांडी प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता है जिसमे गोविंदा की टीम मटकी फोड़ने के इस प्रतियोगिता में शामिल होते है और जितने वाले मंडली प्रतिभागी को यह पुरुस्कार दिया जाता है।

कृष्ण जन्माष्टमी में आठे कन्हैया कैसे बनाए – कृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर यह मिट्टी के रंगों से बनाया जाने वाला कथानक चित्र है। इसमें श्री कृष्ण भगवान की कथा का वर्णन होता है। महिलाएं कृष्ण की 8 पुतलियों को पूजा करती है।यह पेड़ पौधे के पत्ते को पीसकर उसका रंग निकालकर घर की दीवारों पर श्री कृष्ण की 8 पुतलियों की सुंदर आकृति उकेरी जाती है। जिसे आठे कन्हैया के नाम से जाना जाता है।

हमने यूट्यूब में आठे के कन्हैयाा का विडियो बनाया है जिसे देखे और चैनल को सब्सक्राइब जरूर करे

Youtube channel – hitesh kumar hk

Youtube channel – dk 808

दोस्तो अगर आप को यह जानकारी अच्छा लगा तो कॉमेंट और शेयर जरूर करे।अगर आप और कुछ जानकारी एड कराना चाहते है तो नीचे कमेंट करे।

जय जोहार जय छत्तीसगढ़

Hello friends, my name is Hitesh Kumar, in this post I am going to give you information about Krishna Janmashtami, let’s know in detail about this festival.

Krishna Janmashtami Festival 2021

Krishna Janmashtami celebrates this festival not only in India but also abroad with great pomp and worship Lord Krishna on this day.

When is Krishna Janmashtami – Friends, Krishna Janmashtami is the holy festival of Krishna Janmashtami on 30 August 2021, the day – Monday.

When is Janmashtami celebrated – Friends, according to the Janmashtami Hindu calendar, this Krishna Janmashtami is celebrated only on the eighth day after the full moon of the month of Shravan.

Story of Janmashtami – Friends, according to Bhagwat Purana, Kansa had a prediction from the sky that only the eighth child of Devaki would be the cause of your death. After hearing this prediction, Devaki and Vasudev were locked in the dungeon. As soon as Kansa heard that Devaki had a son, Kansa would have come to kill him and in the same way killed the seventh child of Devaki, but after the birth of the eighth child, his dear friend Nand Baba wanted to keep Lord Krishna safe. left the house.And in the same way, Yashoda and Nand Baba did the upbringing of Shri Krishna, Lord Shri Krishna’s entire childhood was spent in Gokul. In his childhood, he composed many pastimes and killed his maternal uncle Kansa and rescued his parents from the clutches of Kansa.

Many names of Janmashtami – Friends Janmashtami is known by many names like – Krishnashtami, Ashtami Rohini, Rohini Ashtami, Shree Jayanti, Gokulashtami, Krishna Jayanti.

Organizing Dahi Handi – Friends, Dahi Handi competition is organized in every corner of the country, in which Govinda’s team participates in this competition to break the pot and the winning troupe participant is given this award.

How to make Eight Kanhaiya in Krishna Janmashtami – This is a plot picture made with clay colors on the occasion of Krishna Janmashtami. It describes the story of Lord Krishna. Women worship 8 effigies of Krishna. The 8 effigies of Shri Krishna are carved on the walls of the house by grinding the leaves of this tree and removing its color. Which is known as Eight Kanhaiya.

We have made a video of eight ke kanhaiya in youtube, watch it and subscribe to the channel.

Youtube channel – hitesh kumar hk

Youtube channel – dk 808

Friends, if you like this information, then do comment and share. If you want to add some more information, then comment below

jai Johar jai chhattisgarh

Hitesh

हितेश कुमार इस साइट के एडिटर है।इस वेबसाईट में आप छत्तीसगढ़ के कला संस्कृति, मंदिर, जलप्रपात, पर्यटक स्थल, स्मारक, गुफा , जीवनी और अन्य रहस्यमय जगह के बारे में इस पोस्ट के माध्यम से सुंदर और सहज जानकारी प्राप्त करे। जिससे इस जगह का विकास हो पायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!