रहस्यों से भरा है यह देवबलोदा का शिव मंदिर l Shiv Mandir devbaloda

( नोट – हिंदी और इंग्लिश में जानकारी प्राप्त करे )

हेलो दोस्तों मेरा नाम है हितेश कुमार इस पोस्ट में मैं आपको देवबलोदा के शिव मंदिर के बारे में जानकारी देने वाला हूं।

प्राचीन शिवमंदिर, देवबलोदा 

शिव मंदिर देवबलोद

पता- भिलाई 3 चरोदा रेललाईन के किनारे में बसे देवबलोदा गांव का प्राचीन शिव मंदिर जो कई रहस्यों को अपने में समेटे हुये हैं।

गर्भ गृह में विराजमान-  देवबलोदा मंदिर के गर्भ गृह में विराजमान है प्राचीन शिवलिंग।

प्राचीन शिवमंदिर, देवबलोदा दुर्ग (छ.ग)
मंदिर का निर्माण- 13वीं शताब्दी में कल्चुरी राजाओं ने देवबलोदा मंदिर का निर्माण कराया था।

मंदिर की विवरण –  बलुआ पत्थर  से निर्मित इस पूर्वाभिमुख में गर्भगृह एवं स्तंभों पर आधारित  नवरंग मण्डप  विधमान हैं।और शिखर विलुप्त हो चुका हैं जो सम्भवत: नागर शैली का रहा होगा।

कुण्ड का रहस्य- मंदिर के बाहर एक कुण्ड हैं । माना जाता हैं की कुण्ड के अंदर एक ऐसा गुप्त रास्ता हैं  जो सीधे आरंग के मंदिर में  निकलता है। इस कुण्ड में 23 सीढ़ियां हैं।

प्राचीन शिवमंदिर, देवबलोदा दुर्ग (छ.ग)

आश्चर्यजनक हैं यह मंदिर – यह एक ऐसा मंदिर है जिसके शीर्ष भाग पर गुम्बद ही नही बना है।माना जाता हैं की यह मंदिर छमासी रात में बनाया गया है।

कलश नुमा पत्थर – मंदिर परिसर से कुछ दुर पर तलाब के बीचो बीच यह कलशनुमा पत्थर आज भी मौजुद हैं।

मेले का आयोजन-  शिवरात्रि पर्व पर यहाँ विशाल मेले का आयोजन किया जाता हैं। जिसमें दूर-दूर से लोग यहाँ शिवलिंग के दर्शन के लिये यहाँ पहुँचतेे है।

आकर्षक मुर्तियां – मंदिर के दीवारो पर  घुडसवारों, तथा किसी में भगवान शिव ड़मरु लिए हुए दिखाई देता है तो किसी में गणेश नृत्य मुद्रा में दिखाई देता है। एक चित्र में धनुष बांध लिये एक योध्दा का दृश्य दिखाई देता है।

प्राचीन शिवमंदिर, देवबलोदा दुर्ग (छ.ग)

हमने यूट्यूब चैंनल में प्राचीन शिव मन्दिर देवबलोदा का वीडियो बनाया हैं जिसे देखे और चैनल को सब्सक्राइब जरूर कर दे।

youtube channel -hitesh kumar hk

यह पोस्ट आप को अच्छा लगे या इसके के बारे में अधिक जानकारी है तो नीचे कॉमेंट करके जरूर बताए।

जय जोहार जय छत्तीसगढ

Hello friends, my name is Hitesh Kumar, in this post, I am going to give you information about the Shiva temple of Devbaloda.

Ancient Shiv Mandir, Devbalod

Address- Bhilai 3 The ancient Shiva temple of Devbaloda village, situated on the banks of the Charoda railway, which contains many mysteries in itself.

Situated in the sanctum sanctorum- The ancient Shivling is enshrined in the sanctum sanctorum of the Devbaloda temple.

Construction of the temple- In the 13th century, the Kalaburi kings built the Debaloda temple.

Description of the temple – This east-facing sandstone has a navagraha pavilion based on the sanctum sanctorum and pillars.

Secret of Kund – There is a pool outside the temple. It is believed that there is a secret passage inside the pool that leads directly into the temple of Arang. There are 23 steps in this pool.

Kalash Numa Patthar – This Kalashnum stone is present in the center of the lake at some distance from the temple complex.

Fair organized- A huge fair is organized here on Shivratri festival. In which people from far and wide reach here for the darshan of Shivalinga.

Charming Murtis – On the walls of the temple, horsemen are seen, and in some, Lord Shiva is seen holding a drum while in some, Ganesha is seen in dance posture. A picture shows a warrior with a bow tied.

We have made a video of the ancient Shiva temple Devbaloda in YouTube channel, which you can watch and subscribe to the channel.

youtube channel -hitesh kumar hk

Do you like this post or more about it If you have information, then please comment below and tell.

Jai Johar Jai Chhattisgarh

Hitesh

हितेश कुमार इस साइट के एडिटर है।इस वेबसाईट में आप छत्तीसगढ़ के कला संस्कृति, मंदिर, जलप्रपात, पर्यटक स्थल, स्मारक, गुफा और अन्य रहस्यमय जगह के बारे इस पोस्ट के माध्यम से सुंदर और सहज जानकारी प्राप्त करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!