500 सौ साल पुराना हैं यह मंदिर हटकेश्वर महादेव रायपुर(छ. ग.)

   
नोट – हिंदी और इंग्लिश में जानकारी प्राप्त करे।
 
हैलो दोस्तों मेरा नाम है हितेश कुमार इस पोस्ट में मैं आपको छत्तीसगढ़ के रायपुर जिले के हटकेश्वर महादेव  के बारे में जानकारी देने वाला हूं। ये जानकारी अच्छा लगे तो कमेंट और शेयर जरूर करे
 
   हटकेश्वर महादेव मंदिर, रायपुर     

500 सौ साल पुराना हैं यह मंदिर हटकेश्वर महादेव रायपुर(छ. ग.)

पता- छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से कुछ ही दुरी पर खारून नदी के तट में महादेव घाट पर स्थित है हटकेश्वर महादेव का मंदिर।

मंदिर के गर्भ गृह में विराजमान –  हटकेश्वर महादेव मंदिर के गर्भ गृह में हैं शिवलिंग जिसके दर्शन मात्र से भक्तो की सभी मनोकामना पूरी हो जाती हैं।
           

500 सौ साल पुराना हैं यह मंदिर हटकेश्वर महादेव रायपुर(छ. ग.)
500 सौ साल पुराना हैं यह मंदिर –  माना जाता हैं की मंदिर की दीवारों में मिले अवशेषो से यह मालूम होता हैं की हटकेश्वर महादेव का मंदिर 500 सौ साल पुराना हैं।

सावन पर्व पर – हटकेश्वर महादेव के मंदिर में सावन के महीनें में भक्त दूर-दूर से शिवलिंग में जल चढाने के लिए यहाँ आते
हैं।
          500 सौ साल पुराना हैं यह मंदिर हटकेश्वर महादेव रायपुर(छ. ग.)
नक्काशी से सुज्जित हैं यह मंदिर-  हटकेश्वर महादेव के मंदिर की दीवारों पर  आंतरिक तथा बाह्य कक्ष की शोभा में और चार चाँद लगा देता हैं।

मेले का आयोजन – हटकेश्वर महादेव के मंदिर में हर साल कार्तिक पूर्णिमा में लगता हैं यहाँ विशाल मेला जिसमे भारी संख्या में यहाँ लोग यहाँ दिखाई देते हैं।

पिण्डदान पूजन- खारून नदी के जल से पूर्वजों के आत्मा की शांति के लिए यहाँ पिंडदान और पूजा पाठ किया जाता हैं।

रामायण काल का मंदिर-  बताया जाता हैं हटकेश्वर महादेव का मंदिर  रामायण काल का हैं। इस मंदिर में बाहुबली हनुमान ने अपने कन्धे पे बैठाकर भगवान शिव को यहाँ लाये थे।

लक्ष्मण झुला- हटकेश्वर महादेव के मंदिर प्रांगण से कुछ दूर पर लक्ष्मण झूला बनाया गया है जो चलने पर यह झूला हिलता है।और यह झूला मंगलवार को बंद रहता है।

हमने महादेव घाट का विडियो बनाया है जिसे देखे और चैनल को सब्सक्राइब जरूर करे 

Youtube channel – hitesh Kumar hk 

Youtube channel –  dk 808

यह पोस्ट आपको अच्छा लगे या इसके बारे में जरूरी जानकारी है तो हमे कमेंट कर जरूर बताएं।

जय जोहार जय छत्तीसगढ़़

Hello friends my name is Hitesh Kumar in this post I am going to give you information about Hatkeshwar Mahadev of Raipur district of Chhattisgarh. If you like this information then do comment and share

Hatkeshwar Mahadev Temple, Raipur

Address- The temple of Hatkeshwar Mahadev is situated at Mahadev Ghat in the banks of Kharun river, a short distance from Raipur, the capital of Chhattisgarh.

Situated in the sanctum – sanctorum of the temple, there is a Shivling in the sanctum sanctorum of Hatkeshwar Mahadev temple, the mere sight of which fulfills all the wishes of the devotees.

This temple is 500 hundred years old – It is believed that from the remains found in the walls of the temple, it is known that the temple of Hatkeshwar Mahadev is 500 hundred years old.

On the festival of Sawan – in the month of Sawan in the temple of Hatkeshwar Mahadev, devotees come here from far and wide to offer water to the Shivling. Adorned with carvings, this temple – on the walls of the temple of Hatkeshwar Mahadev, adds to the beauty of the inner and outer rooms.

Organizing the fair – Every year in the temple of Hatkeshwar Mahadev, a huge fair is held here on Kartik Purnima, in which a large number of people appear here.

Pind Daan Puja- Pind Daan and worship are done here for the peace of the souls of the ancestors with the water of Kharun river.

Temple of Ramayana period – It is said that the temple of Hatkeshwar Mahadev belongs to Ramayana period. In this temple, Bahubali Hanuman had brought Lord Shiva here by sitting on his shoulder.

Lakshman Jhula- Laxman Jhula has been built at some distance from the temple premises of Hatkeshwar Mahadev, which moves when this swing moves. And this Jhoola remains closed on Tuesdays.

We have made a video of Mahadev Ghat, watch and subscribe to the channel

Youtube channel – hitesh Kumar hk 

Youtube channel –  dk 808

If you like this post or have important information about it, then definitely tell us by commenting.

Jai johar jai chhattisgarh

Hitesh

हितेश कुमार इस साइट के एडिटर है।इस वेबसाईट में आप छत्तीसगढ़ के कला संस्कृति, मंदिर, जलप्रपात, पर्यटक स्थल, स्मारक, गुफा और अन्य रहस्यमय जगह के बारे इस पोस्ट के माध्यम से सुंदर और सहज जानकारी प्राप्त करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!