देवी के दर्शन करने आते है जंगली भालू, मुगई माता मंदिर lMugai Mata Temple, Mahasamund lMugai Mata mandir । Mugai Mata chhattisgarh

नोट – हिंदी और इंग्लिश में जानकारी प्राप्त करे।

हैलो दोस्तो मेरा नाम है हितेश कुमार इस पोस्ट में मै आपको छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले के मुगई माता के बारे में जानकारी देने वाला हूं यह जानकारी अच्छा लगे तो कमेंट और शेयर जरूर करे आइए जानते है मुगई माता के बारे में विस्तार से

मुगई माता मंदिर,महासमुंद

कहा है यह मंदिर – दोस्तों यह मंदिर छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले बावनकेरा नामक ग्राम में स्थित है मुगई माता मंदिर।

दुरी –दोस्तों मुगई माता जी के इस मंदिर तक जाने के लिए आपको रायपुर-सराईपाली मार्ग NH-6 में रायपुर की ओर से आना होगा। रायपुर से लगभग 60 किलोमीटर की दूरी तय करने के बाद पटेवा और झलप के मध्य पटेवा के पास बावनकेरा नामक ग्राम है जो कि मुख्य मार्ग में ही मुगई माता मंदिर स्थित है।

अद्भुत मंदिर – दोस्तों मुगई माता का मंदिर भालू के नाम से प्रसिद्ध है। जिसे देखने के लिए श्रद्धालु यहां दूर दूर से आते है शाम के समय माता के दरबार में भालू प्रसाद लेने के लिए आते है श्रद्धालु लोग नारियल, मूंगफली, चना आदि खिलाते है और जैसे ही प्रसाद लेने के बाद जंगल की तरफ वापस चले जाते है।

माता का स्वरूप – दोस्तों मुगई माता का जो स्वरूप है वह बहुत आकर्षक है माता पीपल के पेड़ से निकली हुई हैl

नवरात्रि पर्व – दोस्तों नवरात्रि पर्व में मुगई माता के मंदिर में दर्शन करने के लिए भक्तों की कतार दिखाई देती है और भक्त के द्वारा जो मनोकामना लेकर आते है माता उन्हे अवश्य पुरा करती है।

हमने यूट्यूब में चंडी मंदिर का विडियो बनाया है जिसे देखे और चैनल को सब्सक्राइब जरूर करे
Youtube channel – dk 808

दोस्तो अगर आप को यह जानकारी अच्छा लगा तो कॉमेंट और शेयर जरूर करे।

जय जोहार जय छत्तीसगढ़

Friends, my name is Hitesh Kumar, in this post I am going to give you information about Mugai Mata of Mahasamund district of Chhattisgarh, if you like this information, then do comment and share, let’s know in detail about Mugai Mata.

Mugai Mata Temple, Mahasamund

Where is this temple – Friends, this temple is located in a village named Bawankera in Mahasamund district of Chhattisgarh, Mugai Mata Temple.

To reach this temple of distant – friends, Mugai Mata ji, you have to come from Raipur side on Raipur-Saraipali road NH-6. After covering a distance of about 60 km from Raipur, there is a village named Bawankera near Pateva between Pateva and Jhalp, which is situated on the main road itself, the Mugai Mata temple.

Wonderful Temple – Friends Mugai Mata’s temple is famous by the name of Bear. To see which devotees come here from far and wide, in the evening, bears come to Mother’s court to take prasad.

Mother’s form – Friends, the nature of Mugai Mata is very attractive, the mother has come out of the Peepal tree.

Navratri festival – Friends, in the Navratri festival, a queue of devotees is seen to visit the temple of Mugai Mata and the mother definitely fulfills the wishes brought by the devotee.

We have made a video of Chandi Mandir in YouTube, watch it and subscribe to the channel

youtube channel – dk 808

Friends, if you like this information, then do comment and share.

jai johar jai Chhattisgarh

Hitesh

हितेश कुमार इस साइट के एडिटर है।इस वेबसाईट में आप छत्तीसगढ़ के कला संस्कृति, मंदिर, जलप्रपात, पर्यटक स्थल, स्मारक, गुफा , जीवनी और अन्य रहस्यमय जगह के बारे में इस पोस्ट के माध्यम से सुंदर और सहज जानकारी प्राप्त करे। जिससे इस जगह का विकास हो पायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!