तीजनबाई का जीवन परिचय l Biography of teejanbai l teejanbai biography in hindi

नोट – हिंदी और इंग्लिश में जानकारी प्राप्त करे।

हैलो दोस्तो मेरा नाम है हितेश कुमार इस पोस्ट में मै आपको छत्तीसगढ़ के पंडवानी कलाकार के बारे में जानकारी देने वाला हूं यह जानकारी अच्छा लगे तो कमेंट और शेयर जरूर करे

तीजनबाई का जीवन परिचय

जन्म – दोस्तों तीजनबाई का जन्म 24 अप्रैल 1956 को भिलाई शहर के गनियारी में हुआ था।

माता व पिता का नाम – दोस्तों तीजनबाई के पिता का नाम हुनुकलाल व माता का नाम सुखमती है।

जाति – तीजनबाई की जाति पारधी है।

उपाधि – दोस्तों तीजनबाई को बिलासपुर विश्वविद्यालय द्वारा डी लिट की मानद उपाधि पुरुस्कार से सम्मानित किया गया है।

पहला मंच प्रदर्शन – दोस्तों नन्ही तीजनबाई 13 वर्ष की उम्र में उन्होंने अपना पहला मंच प्रदर्शन किया था।

पद्मश्री – दोस्तों सन 1988 में भारत सरकार के द्वारा पद्मश्री और सन 2003 में कला के क्षेत्र में पद्म भूषण से अलंकृत की गया।

पंडवानी कलाकार – छत्तीसगढ़ राज्य के लोक गीत-नाट्य की पहली महिला कलाकार तीजनबाई हैंlपंडवानी महाभारत की एक कथा होती है।

पांडवानी, का शाब्दिक अर्थ – दोस्तों पांडवानी का शाब्दिक अर्थ महाभारत के प्रसिद्ध पांच भाइयों की कहानियों का अर्थ है।

पांडवानी की कला शैली – पांडवानी में एक व्यक्ति अपने हाथ में एक तंबू जिसे वाद्य यंत्र भी कहा जाता है।इस यंत्र का प्रयोग अर्जुन के धनुष या रथ को व्यक्त करने के लिए किया जाता है।

अवार्ड से सम्मानित- दोस्तों तीजन बाई को अनेक पुरस्कार से सम्मानित किया गया है जो इस प्रकार है।
सन् 1988 पद्म श्री
सन् 1995 संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार
सन् 2003 माननीय डी. लिट, बिलासपुर विश्वविद्यालय
सन् 2003 पद्म भूषण
सन् 2009 नृत्य शिरोमणि
सन् 2016 एम एस सुब्बालक्ष्मी शताब्दी पुरस्कार
सन् 2018 फुकुओका पुरस्कार
सन् 2019 पद्म विभूषण

दोस्तो अगर आप को यह जानकारी अच्छा लगा तो कॉमेंट और शेयर जरूर करे।

जय जोहार जय छत्तीसगढ़

Hello friends my name is Hitesh Kumar in this post I am going to give you information about pandwani artist of chhattisgarh if you like this information then do comment and share

Biography of Teejanbai

Born – Friends Teejanbai was born on 24 April 1956 in Ganiyari, Bhilai city.

Mother and Father’s Name – Friends Teejan Bai’s father’s name is Hunuklal and mother’s name is Sukhmati.

Caste – Teejanbai’s caste is Pardhi.

Degree – Friends, Teejanbai has been awarded the honorary degree of D Litt by Bilaspur University.

First stage performance – Friends, little Teejanbai, at the age of 13, she did her first stage performance.

Padma Shri – Friends were decorated with Padma Shri by the Government of India in 1988 and Padma Bhushan in 2003 in the field of art.

Pandwani artist – Teejan Bai is the first female artist of folk song-drama from the state of Chhattisgarh. Pandwani is a story from Mahabharata.

Pandwani, literally meaning – Friends, the literal meaning of Pandavani is the tales of the famous five brothers of the Mahabharata.

Art style of Pandavani – In Pandavani, a person holds a tambourine, also known as a musical instrument, in his hand. This yantra is used to represent Arjuna’s bow or chariot.

Awarded – Friends Teejan Bai has been honored with many awards which are as follows.

1988 Padma Shri

1995 Sangeet Natak Akademi Award

2003 Hon’ble D. Litt, Bilaspur University

2003 Padma Bhushan2009 Nritya Shiromani

2016 MS Subbalakshmi Centenary Award

2018 Fukuoka Award2019 Padma Vibhushan

Friends, if you like this information, then do comment and share.

jai johar jai chhattisgarh

Hitesh

हितेश कुमार इस साइट के एडिटर है।इस वेबसाईट में आप छत्तीसगढ़ के कला संस्कृति, मंदिर, जलप्रपात, पर्यटक स्थल, स्मारक, गुफा , जीवनी और अन्य रहस्यमय जगह के बारे में इस पोस्ट के माध्यम से सुंदर और सहज जानकारी प्राप्त करे। जिससे इस जगह का विकास हो पायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!