देवबलौदा महोत्सव में दिखाई देगी छत्तीसगढ़ की झलक ।Devbaloda Festival 2022 । shiv temple Devbaloda

नोट – हिंदी और इंग्लिश में जानकारी प्राप्त करे।

हैलो दोस्तो मेरा नाम हैं हितेश कुमार इस पोस्ट मे आपको देवबलौदा महोत्सव 2022 के बारे मे जानकारी देने वाला हूं। यह जानकारी अच्छा लगे तो कॉमेंट और शेयर जरूर करे

देवबलौदा महोत्सव 2022

दोस्तों छत्तीसगढ़ के प्राचीन मंदिर में से एक है देवबलौदा का प्राचीन शिव मंदिर। दोस्तों इस बार देवबलौदा महोत्सव में पारंपरिक कला और संस्कृति छटा देखने को मिलेगी ।

नही खोला गया मंदिर को कोरोना काल में – दोस्तो कोरोना काल की वजह से लगातार बढ़ती हुई संक्रमण के कारण दो सालों से महाशिवरात्रि पर देवबलौदा महोत्सव का आयोजन नहीं हुआ था।. वहीं इस बारे कोरोना के संक्रमण कम होने की वजह से इस साल देवबलौदा महोत्सव मनाया जाएगा।

दो दिवसीय मेला – दोस्तों यह मंदिर कल्चुरी कालीन प्राचीन शिव मंदिर है । इस साल महाशिवरात्रि के पावन पर्व में देवबलोदा के मंदिर में दो दिवसीय महोत्सव मनाया जाएगा।

मंदिर का निर्माण – दोस्तों इस प्राचीन शिव मंदिर की खास बात करे तो इस मंदिर के गर्भगृह में प्राचीन शिवलिंग है इस मंदिर का निर्माण कलचुरी युग में 12वीं 13 वीं शताब्दी में हुआ है. इस मंदिर का निर्माण एक ही व्यक्ति ने छमासी रात में किया था. ये पूरा मंदिर एक ही पत्थर से बना हुआ है और इस मंदिर का गुम्बबत आधा है।

महाशिवरात्रि कब है – दोस्तों इस साल 1 मार्च को महाशिवरात्रि का पावन पर्व है इस दिन भक्त सुबह से मंदिर के पास लंबी कतार में दिखाई पड़ती है भोले बाबा श्रद्धालु की हर मनोकामना को पूर्ण करती है।

दोस्तो हमने यूट्यूब में देवबलोदा शिव मंदिर का विडियो बनाया है जिसे देखे और चैनल को सब्सक्राइब जरूर करें

Youtube channel – hitesh kumar hk

दोस्तो अगर आपको यह जानकारी अच्छा लगा तो कॉमेंट और शेयर जरूर करे। हमसे जुड़ने के लिए youtube, instrgam fecbook को follow जरूर करे

जय जोहार जय छत्तीसगढ़

और पढ़े :- देवबलोदा मंदिर का इतिहास, संपूर्ण जानकारी

Hello friends, my name is Hitesh Kumar, in this post I am going to give you information about Devbaloda Mahotsav 2022. If you like this information then please comment and share

Devbaloda Festival 2022

Friends, one of the ancient temples of Chhattisgarh is the ancient Shiva temple of Devbaloda. Friends, this time the traditional art and culture will be seen in the Devbaloda Festival.

The temple was not opened during the Corona period – Friends, the Devbaloda festival was not organized on Mahashivratri for two years due to the ever-increasing infection due to the Corona period. At the same time, this year Devbaloda Mahotsav will be celebrated due to less infection of Corona in this regard.

Two-day fair – Friends, this temple is an ancient Shiva temple during the Kalchuri period. This year, in the holy festival of Mahashivratri, a two-day festival will be celebrated in the temple of Devbaloda.

Construction of the temple – Friends, talking about this ancient Shiva temple, there is an ancient Shivling in the sanctum sanctorum of this temple, this temple was built in the 12th-13th century in the Kalachuri era. This temple was built by the same person in the sixth night. This entire temple is made of a single stone and the dome of this temple is half.

When is Mahashivratri – Friends, this year on 1st March the holy festival of Mahashivratri is on this day devotees are seen in a long queue near the temple since morning, Bhole Baba fulfills every wish of the devotee.

Friends, we have made a video of Devbaloda Shiva temple in YouTube, watch it and subscribe to the channel.

Youtube channel – hitesh kumar hk

Friends, if you like this information, then do comment and share. To join us please follow youtube, instrgam fecbook.

jai johar jai Chhattisgarh

Read more :- History of Devbaloda temple, complete information

Hitesh

हितेश कुमार इस साइट के एडिटर है।इस वेबसाईट में आप छत्तीसगढ़ के कला संस्कृति, मंदिर, जलप्रपात, पर्यटक स्थल, स्मारक, गुफा , जीवनी और अन्य रहस्यमय जगह के बारे में इस पोस्ट के माध्यम से सुंदर और सहज जानकारी प्राप्त करे। जिससे इस जगह का विकास हो पायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!