लता मंगेशकर का पहला छत्तीसगढ़ी गीत l first chhattisgarhi song of lata mangeshkar

नोट – हिंदी और इंग्लिश में जानकारी प्राप्त करे।

हैलो दोस्तो मेरा नाम हैं हितेश कुमार इस पोस्ट मे आपको लता मंगेशकर का छत्तीसगढ़ी गीत के बारे मे जानकारी देने वाला हूं। यह जानकारी अच्छा लगे तो कॉमेंट और शेयर जरूर करे

लता मंगेशकर का छत्तीसगढ़ी गीत

दोस्तों भारत रत्न, स्वर कोकिला लता मंगेशकर नहीं रहीं। उनका छत्तीसगढ़ और छत्तीसगढ़ी से भी नाता रहा। लता ताई ने छत्तीसगढ़ी में एकमात्र गीत गाया, जो इतिहास बन गया है। संस्कृति विभाग अब इस गीत को धरोहर की तरह संजोने का फैसला किया है। इससे पहले खैरागढ़ संगीत विश्वविद्यालय ने उन्हें डाक्टरेट की उपाधि से नवाजा था। दरअसल, यह किस्सा करीब 41 साल पुराना है। तारीख थी 2 फरवरी 1980, जब खैरागढ़ स्थित इंदिरा कला संगीत विश्वविद्यालय ने उनको डी-लिट की उपाधि दी। वहीं संस्कृति विभाग के डायरेक्टर विवेक आचार्य ने कहा कि लता जी ने जो छत्तीसगढ़ी गीत को गाया है।उसकी हमे कोई पुरानी कैसेट मिलती है। तो उन्हें हम सहेजने का काम करेंगे। बात करीब 16 साल पुरानी है। 22 फरवरी 2005 को मुंबई के स्टूडियो मे लता दीदी ने छत्तीसगढी गीत छूट जाहि आंगना अटारी, छुटही बाबू की पिठ्इया……… की रिकॉर्डिंग हुई थी।

इस गीत की रचना मदन शर्मा ने की थी और संगीत दिया था कल्याण सेन ने छत्तीसगढ़ी फिल्म भकला मे इसे फिल्माया गया था। 4 बार मुंबई का चक्कर लगाया, तब तैयार हुई गीतकार मदन शर्मा ने भास्कर को दिए अपने इंटरव्यू में बताया था कि पहली बार गए तो पता चला कि वे विदेश गई हैं। चौथी बार जब 22 फरवरी 2005 को मुंबई गए, तब ऊषा जी के जरिए उनसे मुलाकात हुई और रिकॉर्डिंग की गई।

फीस से ही 50 हजार रु. मिठाई के लिए लौटा दिए – छत्तीसगढ़ी गाने की रिकॉर्डिंग के लिए तब लता दी को फीस 2 लाख रुपए तय हुई। रिकॉर्डिंग पूरी हुई तो | लता जी ने फीस की तय रकम में से 50 हजार रुपए लौटा दिए और कहा मेरा पहला छत्तीसगढ़ी गीत है, तो सबको मेरी तरफ से मिठाई खिला दो।

दोस्तों लता मंगेशकर दीदी का पहला छत्तीसगढ़ी गीत जो इस प्रकार से है

दोस्तो अगर आपको यह जानकारी अच्छा लगा तो कॉमेंट और शेयर जरूर करे। हमसे जुड़ने के लिए youtube, instrgam fecbook को follow जरूर करे

जय जोहार जय छत्तीसगढ़

Hello friends, my name is Hitesh Kumar, in this post I am going to inform you about the Chhattisgarhi song of Lata Mangeshkar. If you like this information then please comment and share

Chhattisgarhi Songs Of Lata Mangeshkar

Friends Bharat Ratna, Swar Kokila Lata Mangeshkar is no more. He also had a relationship with Chhattisgarh and Chhattisgarhi. Lata Tai sang the only song in Chhattisgarhi, which has become history. The Culture Department has now decided to preserve this song as a heritage. Earlier, Khairagarh Music University had awarded him a doctorate degree. Actually, this story is about 41 years old. The date was February 2, 1980, when Indira Kala Sangeet Vishwavidyalaya at Khairagarh gave him the degree of D-lit.On the other hand, Director of Culture Department, Vivek Acharya said that the Chhattisgarhi song sung by Lata ji, we get some old cassette of it. So we will work to save them. The story is about 16 years old. On 22 February 2005, Lata didi recorded the Chhatisgarhi song Chhut Jahi Aangana Attari, Chuthi Babu Ki Pithiya ……… in the studio of Mumbai.

The song was composed by Madan Sharma and music was composed by Kalyan Sen in the Chhattisgarhi film Bhakala. Visited Mumbai 4 times, then ready-made lyricist Madan Sharma had told in her interview to Bhaskar that when she went for the first time, she came to know that she had gone abroad. When he went to Mumbai for the fourth time on 22 February 2005, he met him through Usha ji and the recording was done.

50 thousand from the fee itself. Returned for sweets – Lata Di was then paid Rs 2 lakh for the recording of Chhattisgarhi songs. When the recording is complete Lata ji returned 50 thousand rupees from the fixed amount of fees and said that if this is my first Chhattisgarhi song, then feed everyone sweets from my side.

Friends first chhattisgarhi song of lata mangeshkar didi which is as follows

Friends, if you like this information, then do comment and share. To join us please follow youtube, instrgam fecebook.

jai johar jai Chhattisgarh

Hitesh

हितेश कुमार इस साइट के एडिटर है।इस वेबसाईट में आप छत्तीसगढ़ के कला संस्कृति, मंदिर, जलप्रपात, पर्यटक स्थल, स्मारक, गुफा , जीवनी और अन्य रहस्यमय जगह के बारे में इस पोस्ट के माध्यम से सुंदर और सहज जानकारी प्राप्त करे। जिससे इस जगह का विकास हो पायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!