भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंग l 12 Jyotirling Name In Hindi l 12 Jyotirlingas in india l 12 Jyotirlingas Name

नोट – हिंदी और इंग्लिश में जानकारी प्राप्त करे।

हैलो दोस्तो मेरा नाम है हितेश कुमार इस पोस्ट मे आप को भारत के 12 ज्योतिर्लिंगों के बारे मे जानकारी देने वाला हुँ। यह पोस्ट आपको अच्छा लगे तो कॉमेंट और शेयर जरूर करे।

भारत में भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंग

भारत में भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंग

दोस्तों देवों के देव महादेव के 12 ज्योतिर्लिंगों के बारे में सुना होगा लेकिन दोस्तों भारत में कहां कहां पर स्थित हैं यह 12 ज्योतिर्लिंग दोस्तो 200 पुराणों के अनुसार जहां जहां ज्योतिर्लिंग है उन 12 स्थान पर भगवान शिव प्रकट हुए थे। कहा जाता है कि ज्योतिर्लिंगों के दर्शन, पूजन, आराधना एवम् नाम जपने मात्र से ही भक्तों के सभी पापसमाप्त हो जाते हैं और बाबा भोलेनाथ की विशेष कृपा उन पर बनी रहती है ।

1. सोमनाथ ज्योतिर्लिंग

दोस्तों सोमनाथ मंदिर गुजरात के काठियावाड़ क्षेत्र में समुद्र के किनारे में स्थित है। चंद्रमा ने भगवान शिव को आराध्य मानकर पूजा की थी और चंद्रमा को सोम भी कहा जाता है । इसलिए इसी नाम पर इस ज्योतिर्लिंग का नाम सोमनाथ पड़ा।

2. महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग

दोस्तों मध्य प्रदेश के उज्जैन में शिप्रा नदी के तट पर स्थित महाकालेश्वर स्वयंभू दक्षिणमुखी ज्योतिर्लिंग है। देश भर में यह तीर्थ स्थान बाबा महाकाल के नाम से प्रसिद्ध है।

3.मल्लिका अर्जुन ज्योतिर्लिंग

दोस्तों मल्लिकार्जुन मंदिर आंध्र प्रदेश कुरनूल जिले में कृष्णानदी के तट पर स्थित है। माना जाता है कि ज्योतिर्लिंग के दर्शन से सात्विक मनोकामनाएं पूरी होती है और दैहिक दैविकभौतिक पाप नष्ट हो जाते हैं।

4. केदारनाथ ज्योतिर्लिंग

दोस्तों केदारनाथ धाम उत्तराखंड में अलकनंदा और मंदाकिनी नदियों के तट पर स्थित है यही पर नर और नारायण की तपस्थली है। कहा जाता है कि उन्हीं की प्रार्थना पर भगवान शिव ने यहां अपना बात स्वीकार किया था।

5.ओम्कारेश्वर ज्योतिर्लिंग

दोस्तों ओंकारेश्वर मंदिर मध्यप्रदेश में नर्मदा नदी के किनारे मनधाता पर्वत पर स्थित है। ऐसी मान्यता है की इनके दर्शन मात्र से ही पुरुषार्थ चतुष्टय की प्राप्ति होती है।

6. त्रंबकेश्वर ज्योतिर्लिंग

दोस्तों त्रंबकेश्वर मंदिर महाराष्ट्र के नासिक से 30 किलोमीटर पश्चिम में स्थित है। गोदावरी नदी के किनारे स्थित यह मंदिर काले पत्थरों से बना है। माना जाता है कि गौतम और पवित्र नदी गोदावरी की प्रार्थना पर ही भगवान शिव ने स्थान पर अपने वाश की स्वीकृति दी थी ।

7. नागेश्वर ज्योतिर्लिंग

दोस्तों नागेश्वर मंदिर गुजरात में द्वारिका पुरी से 7 मील की दूरी पर स्थित है। कहते हैं कि भगवान की इच्छा अनुसार इस ज्योतिर्लिंग का नामकरण किया गया है।

8.भीमाशंकर ज्योतिर्लिंग

दोस्तों भीमाशंकर ज्योतिर्लिंग महाराष्ट्र में पुणे से करीब 100 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यहां पर स्थित शिवलिंग काफी मोटा है। इसलिए यह मंदिर कोटेश्वर महादेव मंदिर के नाम से भी प्रसिद्ध है।

9. विश्वनाथ ज्योतिर्लिंग

दोस्तों धर्म नगरी काशी में काशी विश्वनाथ का मंदिर गंगा नदी के तट पर स्थित है। ऐसी मान्यता है कि हिमालय छोड़कर भगवान ने अपना स्थाई निवास बनाया था। इसी वजह से ऐसा माना जाता है कि प्रलय काल का इस नदी पर कोई असर नहीं पड़ता।

10. घृष्णेश्वर ज्योतिर्लिंग

दोस्तों भगवान शिव का 12 ज्योतिर्लिंग में एक है घृष्णेश्वर के नाम से प्रसिद्ध है। इस मंदिर को घुश्मेश्वर के नाम से भी जाना जाता है। यह मंदिर महाराष्ट्र। दौलताबाद से लगभग 18 किलोमीटर दूर स्थित है ।

11. बैजनाथ ज्योतिर्लिंग

दोस्तों बैजनाथ बाबा बैजनाथ भी कहा जाता है। झारखंड के देवघर जिले में स्थित है। कहा जाता है कि रावण ने अपने तप के बल के कारण शिवलिंग को लंका में ले जाने की कोशिश की, लेकिन रास्ते में व्यवधान आ जाने के कारण शर्त के अनुसार शिव जी यही स्थापित हो गए।

12. रामेश्वरम ज्योतिर्लिंग

दोस्तों रामेश्वरम मंदिर तमिलनाडु राज्य में स्थित है। ऐसी मान्यता है कि रावण की लंका पर चढ़ाई करने के पहले भगवान राम ने शिवलिंग की स्थापना थी। वही रामेश्वरम के नाम से विश्वविख्यात हुआ।

दोस्तो अगर आप को यह जानकारी अच्छा लगा तो कॉमेंट और शेयर जरूर करे। !! धन्यवाद !!

और पढ़े :-

🔸भगवान शिव के 10 प्रसिद्ध मंदिर

🔸 एशिया का सबसे बड़ा शिवलिंग

🔸पहाड़ों पर बसे 10 प्रसिद्ध देवी धाम

FAQ –

1.भारत में कितने ज्योतिलिंग है। Ans. भारत में 12 ज्योतिलिंग है ।

2. भगवान शिव के 12 नाम कौन कौन से है l Ans. सोमनाथ, ओंकारेश्वर, वैद्यनाथ, मल्लिकार्जुन, महाकालेश्वर, भीमाशंकर, रामेश्वर, नागेश्वर, विश्वनाथ, त्र्यबकेश्वर, केदारनाथ, घृष्णेश्वर।

3. उत्तराखंड में कौन सा तीर्थ स्थल ज्योतिलिंग है। Ans.उत्तराखंड में केदारनाथ तीर्थ स्थल ज्योतिलिंग है।

4. 12 ज्योतिलिंग कहा कहा पर है। Ans.12 ज्योतिलिंग उत्तराखंड, महाराष्ट्र, गुजरात, उज्जैन, आंध्रप्रदेश, काशी, झारखंड, तमिलनाडु,

Hello friends, my name is Hitesh Kumar, in this post I am going to give you information about 12 Jyotirlingas of India. If you like this post then do comment and share.

12 Jyotirlingas of Lord Shiva in India.

Friends must have heard about the 12 Jyotirlingas of Lord Mahadev, but friends, where are these 12 Jyotirlingas located in India. It is said that all the sins of the devotees are eradicated just by seeing, worshiping, worshiping and chanting the names of Jyotirlingas and the special grace of Baba Bholenath remains on them.

1. Somnath Jyotirling

Friends Somnath Temple is located in the Kathiawar region of Gujarat on the seashore. Moon worshiped Lord Shiva as an adoration and Moon is also called Soma. Hence this Jyotirlinga was named Somnath after this name.

2. Mahakaleshwar Jyotirling

Friends, Mahakaleshwar Swayambhu Dakshin Mukhi Jyotirlinga is situated on the banks of river Shipra in Ujjain, Madhya Pradesh. This pilgrimage place is famous throughout the country by the name of Baba Mahakal.

3. Mallika Arjun Jyotirlinga

Friends Mallikarjuna Temple is located on the banks of Krishna river in Kurnool district of Andhra Pradesh. It is believed that by the darshan of Jyotirlinga, sattvik desires are fulfilled and physical, divine and material sins are destroyed.

4. Kedarnath Jyotirling

Friends, Kedarnath Dham is situated on the banks of Alaknanda and Mandakini rivers in Uttarakhand, this is where Nar and Narayan’s penance is. It is said that on his prayer, Lord Shiva accepted his point here.

5.Omkareshwar Jyotirling

Friends, Omkareshwar temple is situated on the Mandhata mountain on the banks of river Narmada in Madhya Pradesh. It is a belief that only by having a glimpse of them, one attains virtuousness.

6. Trimbakeshwar Jyotirling

Friends, Trimbakeshwar Temple is located 30 km west of Nashik, Maharashtra. Situated on the banks of river Godavari, this temple is made of black stones. It is believed that it was on the prayer of Gautam and the holy river Godavari that Lord Shiva approved his wash at the place.

7. Nageshwar Jyotirling

Friends Nageshwar Temple is located at a distance of 7 miles from Dwarka Puri in Gujarat. It is said that this Jyotirlinga has been named as per the wish of God.

8.Bhimashankar Jyotirling

Friends, Bhimashankar Jyotirling is located at a distance of about 100 kilometers from Pune in Maharashtra. The Shivling located here is quite thick. Hence this temple is also famous as Koteshwar Mahadev Temple.

9. Vishwanath Jyotirling

Friends, the temple of Kashi Vishwanath is situated on the banks of river Ganges in the religious city of Kashi. It is believed that the Lord left the Himalayas and made his permanent abode. For this reason, it is believed that the Holocaust period has no effect on this river.

10. Ghrishneshwar Jyotirling

Friends, one of the 12 Jyotirlingas of Lord Shiva is famous by the name of Ghrishneshwar. This temple is also known as Ghushmeshwar. This temple is in Maharashtra. It is located about 18 kms from Daulatabad.

11. Baijnath Jyotirling

Friends Baijnath is also called Baba Baijnath. It is located in Deoghar district of Jharkhand. It is said that due to the power of his tenacity, Ravana tried to take the Shivling to Lanka, but due to the obstruction in the way, it was established as per the condition.

12. Rameshwaram Jyotirlinga

Friends Rameshwaram Temple is located in the state of Tamil Nadu. It is believed that before Ravana’s ascent to Lanka, Lord Rama established shivling. He became world famous by the name of Rameshwaram.

Friends, if you like this information, then do comment and share.

jai johar jai Chhattisgarh

Read More:-

🔸10 Famous Temples of Lord Shiva

🔸Asia’s largest Shivling

🔸10 Famous Goddess Dham situated on the mountains

FAQ –

1. How many Jyotirlingas are there in India. Ans. There are 12 Jyotirlingas in India.

2. What are the 12 names of Lord Shiva. Ans. Somnath, Omkareshwar, Vaidyanath, Mallikarjuna, Mahakaleshwar, Bhimashankar, Rameshwar, Nageshwar, Vishwanath, Trybakeshwar, Kedarnath, Ghrishneshwar.

3. Which pilgrimage site is Jyotirling in Uttarakhand . Ans. Kedarnath pilgrimage site in Uttarakhand is Jyotirlinga.

4.12 Where is the Jyotirlinga located? Ans.12 Jyotirling Uttarakhand, Maharashtra, Gujarat, Ujjain, Andhra Pradesh, Kashi, Jharkhand, Tamil Nadu,

Hitesh

हितेश कुमार इस साइट के एडिटर है।इस वेबसाईट में आप छत्तीसगढ़ के कला संस्कृति, मंदिर, जलप्रपात, पर्यटक स्थल, स्मारक, गुफा , जीवनी और अन्य रहस्यमय जगह के बारे में इस पोस्ट के माध्यम से सुंदर और सहज जानकारी प्राप्त करे। जिससे इस जगह का विकास हो पायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!