यशवंत सिन्हा का जीवन परिचय l Family,Age, Career, Yashwant sinha Biography in hindi

नोट – हिंदी और इंग्लिश में जानकारी प्राप्त करे।

हैलो दोस्तो मेरा नाम है हितेश कुमार इस पोस्ट मे आपको यशवंत सिन्हा के जीवन के बारे बताने जा रहे यह पोस्ट आपको अच्छा लगे तो कॉमेंट और शेयर जरूर करे।

यशवंत सिन्हा का जीवन परिचय

यशवंत सिन्हा का जीवन परिचय l Family,Age, Career, Yashwant sinha Biography in hindi

यशवंत सिन्हा एक भारतीय राजनीतिज्ञ और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता है। नौकरशाही राजनेता यशवंत सिन्हा को लोग भारतीय अर्थव्यवस्था की परिवर्तक मानते हैं। अपने राजनैतिक जीवन के दौरान एक चरित्रवान और सज्जन व्यक्ति के रूप में जाने गए जिन्होंने कभी भी तुच्छ राजनीति नहीं की। वे प्रभावशाली नौकरशाही जीवन व्यतीत करने के बाद यशवंत सिन्हा जनता दल के टिकट पर भारतीय राजनीति में प्रवेश किया। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता और विदेश मंत्री के तौर पर काम किया। अटल बिहारी वाजपेई की सरकार में वित्त मंत्री भी रहे। उन्होंने कई अंतरराष्ट्रीय सम्मेलनों और सामाजिक और राजनैतिक प्रतिनिधिमंडल में भारत का प्रतिनिधित्व किया है। वे1970 के दशक में जयप्रकाश नारायण के समाजवादी आंदोलन से बहुत प्रभावित हुए।

यशवंत सिन्हा का जन्म

यशवंत सिन्हा का जन्म 15 जनवरी 1935 को बिहार की राजधानी पटना में कायस्थ परिवार में हुआ था।

यशवंत सिन्हा की शिक्षा

यशवंत सिन्हा की प्रारंभिक शिक्षा पटना में ही हुई। इसके पश्चात सन 1958 में राजनीति शास्त्र में स्नातकोत्तर किया। इसके बाद उन्होंने सन् 1960 तक पटना विश्वविद्यालय हिंदी विषय का अध्यापन किया। साथ में ही उनका प्रतिष्ठित भारतीय प्रशासनिक सेवा के लिए हो गया।

यशवंत सिन्हा का राजनीतिक करियर

🔸दोस्तों अगले 24 सालों तक उन्होंने महत्वपूर्ण पदों पर अपनी सेवाएं दी ।

🔸यशवंत सिन्हा ने 4 वर्षों तक बतौर उपप्रभागी न्यायधीश के लिए काम किया।

🔸उन्होंने 2 साल तक का बिहार सरकार के वित्त मंत्रालय में सचिवऔर उप सचिव का काम भी किया।इसके बाद भारत सरकार के वाणिज्य मंत्रालय में उप सचिव के पद पर नियुक्त किए गए।

🔸1971 से 1974 तक बोन जर्मनी के भारतीय दूतावास में पहले
सचिव नियुक्त किए गए थे और 1973 से 1974 के दौरान
उन्होंने एक बेडफैक्ट में भारतीय महावाणिज्य दूत के पद पर कार्य
किया।

🔸करीब 7 साल तक इस पद पर काम करने के बाद उन्हें विदेश व्यापार और भारत के यूरोपीय आर्थिक तंत्र रिश्तो के विषय में बहुत नि: पूर्णता प्राप्त हो गई।

🔸जिसके बाद उन्होंने बिहार सरकार की औद्योगिक अवसंरचना विभाग और भारत सरकार की उद्योग मंत्रालय ने भी पदभार संभाला। जहां पर उन्होंने विदेशी व्यवसाई के सहयोग से तकनीक आयात और औद्योगिक समझौते से संबंधित कई कार्य किए।

🔸1980 से 1984 के दौरान भारत सरकार के भूतल परिवहन मंत्रालय में संयुक्त सचिव का पद संभाला और परिवहन और सड़क परिवहन से संबंधित मामलों पर काम किया।

सर्वोच्च नागरिक सम्मान

भारत-पाक के बीच संबंधों में उनके योगदान के लिए उन्हें सन 2015 में फ्रांस का सर्वोच्च नागरिक सम्मान लीजन ऑफ ऑनर प्रदान किया गया।

समाजवादी आंदोलन से प्रभावित

दोस्तों 1970 के दशक में जयप्रकाश नारायण की समाजवादी आंदोलन से यशवंत सिन्हा काफी प्रभावित हुए।1984 में यशवंत सिन्हा ने भारतीय प्रशासनिक सेवा से इस्तीफा दे दिया और जनता पार्टी में शामिल हो गए। 1986 में उन्हें पार्टी के अखिल भारतीय महासचिव और साल 1988 में राज्यसभा सदस्य चुना गया और 1989 में जनता दल के निर्माण के पश्चात महासचिव बनाया गया। 1990 से 1991चंद्रशेखर सरकार ने वित्त मंत्री बनाए गए । जबकि उन्हें 1996में भारतीय जनता पार्टी का प्रवक्ता बना दिया गया। यशवंत सिन्हा अटल बिहारी वाजपेई की सरकार मार्च1998 से मई2002 तक वित्त मंत्री रहे और बाद में 2004 के अंत तक विदेश मंत्री रहे। यशवंत सिन्हा सन 2004 के लोकसभा चुनाव में अपने चुनाव क्षेत्र हजारिबाग से हार गए। उन्होंने सन 2005 में संसद ने एक बार फिर से प्रवेश किया और सन 2009 में बीजेपी उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया।

सरकार की कुछ प्रमुख नीतियों और प्रस्ताव

🔸सरकार की कुछ प्रमुख नीतियों और प्रस्तावों को खारिज करने के चलते आलोचना होने के बाद यशवंत सिन्हा ने जो आर्थिक सुधार की है और जो कदम उठाए उसी कारण भारतीय अर्थव्यवस्था को सही दिशा मिली।

🔸ब्याज दरों में कटौती बंधक ब्याज दर पर कर कटौती दूरसंचार क्षेत्र को मुक्त करना है।

🔸पेट्रोलियम व्यवसाय को नियंत्रणमुक्त करना और राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण का निर्धारण इत्यादि शामिल थे।

🔸भारतीय बजट पेश करने 53 वर्ष पुरानी परंपरा को तोड़ दिया। यशवंत सिन्हा को अंतरराष्ट्रीय समझौतों में उनकी काबिलियत के लिए और सामाजिक और राजनीतिक प्रतिनिधित्व के लिए हमेशा याद किया जाएगा।

🔸यशवंत सिन्हा ने वित्त मंत्री रहते हुए अपने अनुभवों के विषय में एक किताब भी लिखी हैजिसका शीर्षक है कंसेशन ऑफर स्वदेशी।

दोस्तो अगर आप को यह जानकारी अच्छा लगा तो कॉमेंट और शेयर जरूर करे।

!! धन्यवाद !!

और पढ़े –

🔸Rj कार्तिक का जीवन परिचय

🔸 सिंगर केके का जीवन परिचय

🔸द्रौपदी मुर्मू का जीवन परिचय

Hitesh

हितेश कुमार इस साइट के एडिटर है।इस वेबसाईट में आप छत्तीसगढ़ के कला संस्कृति, मंदिर, जलप्रपात, पर्यटक स्थल, स्मारक, गुफा , जीवनी और अन्य रहस्यमय जगह के बारे में इस पोस्ट के माध्यम से सुंदर और सहज जानकारी प्राप्त करे। जिससे इस जगह का विकास हो पायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!