जाने भगवान शिव ने क्यों खोली थी अपनी तीसरी आँख । Why did Lord Shiva open his third eye? Ll shivji ki teesri aankh kab khuli thi

नोट – हिंदी और इंग्लिश में जानकारी प्राप्त करे।

हैलो दोस्तो मेरा नाम है हितेश कुमार इस पोस्ट मे आपको भगवान शिव ने अपनी तीसरी आँख क्यों खोल थी जिसके बारे मे जानकारी देने वाला हुँ। यह पोस्ट आपको अच्छा लगे तो कॉमेंट और शेयर जरूर करे।

भगवान शिव ने अपनी तीसरी आँख क्यों खोल थी

जाने भगवान शिव ने क्यों खोल थी अपनी तीसरी आँख । Why did Lord Shiva open his third eye? Ll shivji ki teesri aankh kab khuli thi

दोस्तो भगवान शिव ने अपनी तीसरी आंख तीन कारणों से खोली थी जो इस प्रकार है

🔸माता सती के अग्नि में दहन होने के बाद भगवान शिव समाधि में चले गए थे। तब देवताओं ने उन्हें उठाने के लिए कामदेव को भेजा था व कामदेव ने शिवजी पर पुष्प बाण चलाया जिससे उनकी तपस्या भंग हुई और उन्होंने तीसरी आँख खोलकर कामदेव को भस्म कर दिया था।

🔸एक बार माता पार्वती ने उत्सुकतावश शिवजी की दोनों आँखों पर हाथ रखकर उन्हें बंद कर दिया जिससे सृष्टि में अंधकार छा गया। तब सृष्टि को ताप व रोशनी प्रदान करने के उद्देश्य से शिवजी ने अपनी तीसरी आँख खोली थी।

🔸एक बार देव इंद्र व गुरु बृहस्पति कैलाश गए व इंद्र ने अपने अहम् के कारण अपने वज्र से भगवान शिव पर आक्रमण कर दिया। क्रोधित होकर शिवजी ने अपनी तीसरी आँख खोल दी किन्तु गुरु बृहस्पति की प्रार्थना पर वे शांत हुए।

दोस्तो अगर आप को यह जानकारी अच्छा लगा तो कॉमेंट और शेयर जरूर करे।

धन्यवाद

और पढ़े –

🔸 भोलेनाथ की 5 बेटियों के नाम

🔸 पशुपतिनाथ व्रत के फायदे

🔸 पार्थिव शिवलिंग का निर्माण

Hello friends, my name is Hitesh Kumar, in this post, why did Lord Shiva open his third eye, about which I am going to give information. If you like this post then do comment and share.

Why did Lord Shiva open his third eye?

Friends, Lord Shiva had opened his third eye for three reasons which are as follows

🔸Lord Shiva went to the samadhi after Mata Sati was burnt in the fire. Then the gods had sent Kamadeva to lift him and Kamadeva shot a flower arrow at Shiva, which broke his penance and opened the third eye and consumed Kamadeva.

🔸Once Mother Parvati, out of curiosity, placed her hands on both the eyes of Shiva and closed them, due to which there was darkness in the universe. Then Shiva opened his third eye with the aim of providing heat and light to the universe.

🔸Once Dev Indra and Guru Brihaspati went to Kailash and Indra attacked Lord Shiva with his thunderbolt because of his ego. Enraged, Shiva opened his third eye, but on the request of Guru Brihaspati, he calmed down.

Friends, if you like this information, then do comment and share.

Thanks you

Read more –

🔸Names of 5 daughters of Bholenath

🔸Benefits of Pashupatinath Vrat

🔸construction of earth lingam

Hitesh

हितेश कुमार इस साइट के एडिटर है।इस वेबसाईट में आप छत्तीसगढ़ के कला संस्कृति, मंदिर, जलप्रपात, पर्यटक स्थल, स्मारक, गुफा , जीवनी और अन्य रहस्यमय जगह के बारे में इस पोस्ट के माध्यम से सुंदर और सहज जानकारी प्राप्त करे। जिससे इस जगह का विकास हो पायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
जाने भगवान शिव के 5 बेटियों के नाम और उनकी उत्पत्ति की कहानी । bholenath ki 5 betiyon ke naam सौरव जोशी का जीवन परिचय l Sourav joshi biography in hindi