नानपाकल नेराथु मायक्कम, मूवीस की स्टोरी (nanpakal nerathu mayakka movice story in hindi

नानपाकल नेराथु मायक्कम,(nanpakal nerathu mayakka movice Review in hindi 

नानपाकल नेराथु मायक्कम,(nanpakal nerathu mayakka movice Review in hindi

दोस्तों, करीब एक साल पहले magazine में मैंने एक खबर को पढ़ा था जो एक सच्ची कहानी पर based थी।मैं उस पर विश्वास नहीं कर पा रहा था और उसके बारे में internet पर भी काफी चर्चा हो रही थी। यह पता था कि एक दिन उस सच्ची कहानी के ऊपर कोई movie बन जाएगी जिसे मैं अपने इस channel पर explain करूंगा।

इससे भी खास बात यह है कि इस movie को direct करने वाले कोई और नहीं बल्कि वही व्यक्ति हैं जिन्होंने चुरूली जैसी masterpiece movie को direct किया था। इस movie का concept बिल्कुल different है लेकिन उसी की तरह आपके मन में काफी सवालों को ज़रूर छूट जाएगी यह movie यह मेरी guarantee है।तो चलिए बिना देरी किए शुरू करते हैं आज की यह movie जिसका नाम है नानपाकल नेराथु मायक्कम और इसका मतलब है दोपहर का एक सपना।

movie की शुरुआत होती है एक बस के tour से जिसमें केरल की कुछ क्रिस्टन फैमिली तमिलनाडु में अलग अलग चर्चों को देखने जाते हैं। सारे चर्च घूमने के बाद वक्त होता है वापस अपने state केरल जाने का रास्ते में खाना खाने के लिए bus की सारी families एक hotel में रुकती है।उसी bus में एक family होती है जिसमें तीन लोग होते हैं।James नाम का आदमी उसकी बीवी और एक बेटा James जब खाना खाता है तो उससे काफी चिड़चिड़ाहट होती है। दरअसल वह पक्का मलु character का आदमी होता है जिसे अपने केरल की हर चीज़ से प्यार था वो अपनी बीवी से कहता है कि देखो कैसा खाना दिया है इसमें कोई स्वाद नहीं है ऊपर से ये चाय भी कितनी मीठी है इतनी मीठी चाय कौन पीता है?चाय तो हमारे केरल में मिलती है।उसकी बीवी उसको सभी के सामने ऐसा बोलने से रोकती है और खाना खाने के बाद सभी वापस bus में चढ़ जाते हैं, Bus में चढ़ने के बाद वहां का driver भी तमिल movies के songs play करने लगता है जिससे James irritate होने लगता है।

 काफी देर इंतज़ार करने के बाद आखिरकार वह bus driver से कहता है कि भाई बहुत देर हो गई क्या तुम अब मलयालम songs नहीं चला सकते driver उसकी बात मान लेता है उन मल्लू songs चला देता है थोड़ी देर बाद सभी की झपकी लग जाती है और सभी सो जाते हैं बस को चलते चलते थोड़ा time गुज़रता है।

और अचानक से James की नींद खुल जाती है वह फ़ौरन उस बस को रोकने के लिए बोलता है और खेतों के बीचों beach होकर एक गांव की तरफ जाने लगता है वह उस गांव में इस तरह जाता है जैसे वह वही रहता हो और उसे सारी गलियां और मोहल्ले याद हो आगे जाकर रास्ते में एक घर पड़ता है जहां जिन सबसे पहले एक भैंस को थोड़ा चारा डालने लगता है और फिर अपनी सफ़ेद लूंगी निकालकर पास में लटके हुए लूंगी को लपेट लेता है अब वो उस घर के अंदर जाता है जहां उसे एक बूढ़ी औरत मिलती है जिसका अभी अभी आंखों का operation हुआ था वो उसे तमिल में बात करने लगता है वह पूछता है अरे मां तुमने यह काला चश्मा क्यों पहन रखा है? तो वह बोलती है कि operation की वजह से doctor ने बोला है ताकि आंखों को infection ना हो।

James इस बात को सुनता है और अजीब सा कुछ सोचने लगता है फिर वो वहां से उठता है और अंदर कमरे की तरफ जाता है अंदर जाकर वो अपनी shirt बदलता है और एक औरत से कहता है कुंकुली, क्या तुम सो रही हो?

कोई बात नहीं मैं खुद चाय बना लेता हूं, तुम्हारे लिए भी बना कर ले आऊंगा, इसके बाद वो चाय बनाकर पोंकुरली को देता है और उससे पूछता है कि आखिर kitchen का सारा सामान खत्म हो गया और तुमने मुझे बताया भी नहीं मैं अभी चाय पीकर सामान लेने जाता हूँ इसके बाद घर में दो और आदमी आ जाते हैं जिनको देखकर वो कहता है कि मैं अभी बाज़ार से सामान लेकर लौटकर आता हूँ वो घर में से थैला निकालकर बाहर खड़ी एक bike पर बैठता है और बाज़ार की तरफ निकल पड़ता है उस घर के लोग उसे देखकर इतना हैरान होते हैं कि कुछ नहीं बोल पाते वह यह समझ ही नहीं पाते कि यह आदमी कौन है और हमसे ऐसे क्यों बात कर रहा है जैसे यह इसी घर का member हो लेकिन जैसे ही वह bike लेकर निकलता है घर के सभी लोग चोर चिल्लाकर उसके पीछे भागते हैं उनको लगता है कि यह कोई चोर था तो घर की bike लेकर भाग गया।

उधर जेम्स की बीवी और बाकी सभी लोग बस में परेशान होते हैं वो समझ नहीं पाते कि आखिर इतनी देर में जेम्स गांव से वापस क्यों नहीं आया?आखिर उसे उस गांव में क्या काम था?

इस beach सभी लोग bus से उतर कर उस गांव में आते हैं.और जेम्स के बारे में पूछने लगते हैं इस beach जेम्स अचानक अपनी बीवी और बेटे के beach में से bike लेकर निकल जाता है जैसे उनको जानता ही ना हो।

ये देखकर James के गाँव वाले और इस गाँव वाले लोग हैरान हो जाते हैं कि ये आदमी ऐसा बिहेव क्यों कर रहा है उधर,पोंकुरली को घर पर ये एहसास हो रहा होता है कि जिस तरह उस आदमी ने उसे आवाज़ देकर बुलाया, ऐसा तो उसका पति उसे पुकारता था। जेम्स सब गांव में एक फ़सल के पास जाता है और उसकी जांच करने लगता है जिसके बाद वो वापस उसी गांव की तरफ निकल पड़ता है ।

अब दूसरी तरफ जेम्स के बस का ही एक आदमी उस गांव के एक लड़के के साथ मिलकर जगह जगह जेम्स के बारे में पूछते रहते हैं कि शायद वो वहीं कहीं हों उधर जेम्स क्रिश्चन होते हुए भी एक मंदिर के पास जाकर पूजा अर्चना करने लगता है जैसे हिंदू लोग करते हैं।

इस वक्त तक जितना confused गांव के लोग होते हैं उतना ही confused इस movie के दर्शक और आप लोग भी होंगे कि आखिर ये सब हो क्या रहा है?

आगे जाने पर James को कुछ लोग बात करते हुए दिखते हैं जहां वो सभी से इस तरह बात करने लगता है जैसे सभी को जानता हो और उसको देखकर बाकी लोग उसका मुंह ताकते रहते हैं कि आखिर ये आदमी कौन है जिसे हम सभी के नाम पता है।

 इसके बाद जेम्स एक चाय की दुकान पर जाता है और एक चाय मांगता है यहां हम देखते हैं कि अभी कुछ घंटों पहले जो जेम्स तमिलनाडु की मीठी चाय के ऊपर comment कर रहा था वो खुद अब अपनी चाय में बहुत सारी चीनी डालकर उसे पी रहा है।

इसके बाद वो गांव में आगे जाता है और तमिल गाने पर dance करने लगता है ये वही गाने होते हैं जिनको सुनकर उसे बस में irritation हो रहा था मतलब इस गांव में वह अपने स्वभाव का एकदम उल्टा काम कर रहा था।

उधर James के असली गांव वाले उसे ढूंढते रहते हैं और वही पोंकुरली की बेटी अब घर पहुंचती है वो अपने दादा और मम्मी को काफी डांटती है वो कहती है एक आदमी आकर हमारे घर से papa की bike चुरा कर भाग गया और आप लोग खड़े खड़े देखते रहे आखिर आप लोग कर क्या रहे थे।

उधर शाम होने पर जेम्स एक दारू के अड्डे पर जाता है और वहां काफी दारु पीकर तमिल songs पर फिर से dance करने लगता है इसके साथ ही साथ वो तमिल movies के dialogues बोल बोल कर enjoy भी करता है।

अब दिन ढलते ही वो उस घर में वापस आता है जहां से उसने वो bike उठाई थी वहां आकर वो बोलता है कि मैं सारा सामान लेकर आया हूं अब अगली बार सामान खत्म होने से पहले ही मुझे बता देना ताकि घर में राशन बना रहे।

नानपाकल नेराथु मायक्कम,(nanpakal nerathu mayakka movice Review in hindi

इतने में James के असली गांव वाले वहां आ जाते हैं उसकी बीवी उससे कहती है कि आप तमिल भाषा में बात क्यों कर रहे हैं और इस गांव में ऐसे behave क्यों कर रहे हैं?

चलिए हमें bus में बैठना है इतनी देर में बाकी लोग भी उसे बोलते हैं James जल्दी चलो दिन ढल चुका है और हमें जल्दी अपने गांव पहुंच जाना चाहिए।

इधर उस गांव के लोग भी उसे उल्टा सीधा बोलते हैं कि आखिर तुम सुबह से इस गांव में ऐसे क्यों घूम रहे हो? जैसे ही तुम्हारा गांव हो? क्या तुम यहाँ किसी चोरी के इरादें से आए हो?

इतने में James को गुस्सा आ जाता है वो कहता है कि कौन बोल रहा है कि मैं इस गांव का नहीं हूं। मैं सुंदरम इसी गांव में बड़ा हुआ हूं और यहीं पैदा हुआ हूं मेरे दादा पर दादा भी इसी गांव के थे और अब अगर किसी ने मेरे बारे में ऐसा कुछ बोला तो मैं किसी को नहीं छोडूंगा।

यह सुनकर जेम्स की असली बीवी बहुत परेशान हो जाती है और वहीँ पोंकुरली की family काफी हैरान हो जाती है क्योंकि जिस सुंदरम की बात जेम्स कर रहा था, वो कोई और नहीं बल्कि पोंकुरली का ही पति था।

तभी उस गाँव का एक बूढ़ा आदमी सभी से कहता है, कि दरअसल दो साल पहले सुंदरम किसी काम से शहर गया था, लेकिन कभी वापस नहीं आया और हमने उसको ढूंढने की काफी कोशिश की, लेकिन उसका आज तक कोई पता नहीं चला।लेकिन आज आपके गांव का जेम्स हमारे गांव के सुंदरम की तरह बात कर रहा है, इसलिए मेरी आपसे गुज़ारिश है कि आप लोग आज रात इसी गांव में रुक जाएं और सुबह होने तक का इंतज़ार करें हो सकता है कि James ठीक हो जाए।

उधर सुंदरम यानी James अपनी मां की गोद में सर रखकर सो जाता है और सभी लोग मिलकर सुबह का इंतज़ार करते हैं.

सुबह जल्दी उठकर जेम्स सबसे पहले अपनी भैंस का दूध निकलता है और फिर उसे बेचने के लिए निकल पड़ता है, लेकिन कोई भी उससे दूध नहीं खरीदता क्योंकि सभी का कहना होता है कि हमारे यहां तो कोई और दूध वाला दूध देने आता है।

जेम्स को जब हर जगह से यही जवाब मिलता है तो वह परेशान होने लगता है वो सोचता है कि कल तक तो मैं सभी को दूध

देने जा रहा था और सभी ले भी रहे थे आज अचानक सब ऐसे क्यों बोल रहे हैं और मुझको पहचानने से इंकार क्यों कर रहे हैं?

बेचारा जेम्स परेशान होकर सारा दूध नाली में बहा देता है और वहां से post office के लिए निकल पड़ता है.

उधर गांव के लोग अभी तक समझ जाते हैं कि जेम्स अभी भी ठीक नहीं हुआ है।

तभी James के गाँव का एक आदमी सभी के सामने कहता है कि हम एक काम करते हैं.

 पोंकुरली से James की चाय में नींद की दवा मिलवा देते हैं ताकि James बेहोश हो जाए और हम उसे अपने गांव वापस ले जाएं।

इधर James अपने पैसे निकालने के लिए post office पहुंचता है जहां वह सुंदरम के sign करके पैसे निकालने की कोशिश करता है सामने बैठा accountant उसे कहता है कि तुम्हारे sign तो ठीक है लेकिन तुम सुंदरम नहीं हो तुम्हारा photo तुम्हारी शक्ल से match तो कर ही नहीं रहा है।

 इसके बाद James उससे लड़ने लगता है कि मैं ही सुंदरम हूं और कुछ दिन पहले ही तो मैं पैसे निकाल कर ले गया था तब तो आपने कुछ नहीं कहा, आज अचानक आपको क्या हो गया?

इसके बाद James की हालत खराब होने लगती है.वह समझ नहीं पाता कि आखिर उसके साथ ऐसा क्यों हो रहा है? कोई उसको पहचान क्यों नहीं रहा?

इतनी देर में उसे वापस आते हुए एक मंदिर दिखता है जिस पर काम चल रहा था वह सोचता है कि कल तो यह मंदिर यहां नहीं था आज अचानक यह मंदिर कहां से आ गया

परेशान James से अपने चेहरे पर हाथ रखता है तो उसे महसूस होता है कि उसकी दाढ़ी काफी बड़ी हुई है इसलिए वह दाढ़ी बनवाने के लिए एक salon पर जाता है और वहां एक लड़के से कहता है कि तुम्हारे चाचा को बुलाओ मैं उनसे ही दाढ़ी बनवाता हूं।

 यह सुनकर वह लड़का हैरान हो जाता है और कहता है कि भाई उनको मरे हुए तो आज पूरे छह महीने हो गए यह देखो सामने उनकी photo भी लगी है तुम नए लग रहे हो लगता है तुम कभी आए होंगे तो उनसे मिले होंगे उसका इतना कहना होता ही है कि।

 तभी जेम्स सामने लगी उसके चाचा की तस्वीर देख लेता है लेकिन उसके चाचा के face से ज़्यादा उसका दिमाग वह तारीख खराब करती है जो उस तस्वीर पर डली थी वह देखता है उस तस्वीर पर दो हज़ार ग्यारह लिखा हुआ है जबकि कल तक तो दो हज़ार नौ चल रहा था इसके बाद उसकी नज़र शीशे पर पड़ती है और वह अपनी शक्ल देखकर भौचक्का रह जाता है.

वो खुद को पहचान ही नहीं पाता वो मन ही मन सोचता है कि आखिर ये सब मेरे साथ क्या हो रहा है? मेरी शक्ल भी बदल गई। ये समय भी बदल गया और कोई मुझे पहचान भी नहीं रहा।

इसके बाद वो सब समझने लगता है कि आखिर ये सब क्यों हो रहा है? वो चुपचाप अपने घर जाता है और सभी घर वालों के साथ बैठ कर खाना खाने लगता है खाना खाते खाते वह फूट फूट कर रोता रहता है। जैसे उसे किसी चीज़ का एहसास हो चुका है खाना खाने के बाद वह थोड़ा चुप चुप रहता है और किसी से कुछ नहीं बोलता थोड़ी देर बाद वह अपनी मां के पास आकर उनसे बातें करने लगता है और कहता है दवा टाईम पर लेना ज़रूरी है मां तभी तो तुम सब कुछ ठीक से देख पाओगी। मां कहती हैं कि मुझे तो किसी को नहीं देखना मैंने तो कई सालों से तुझे नहीं देखा गांव वालों की बातें मैंने सुनी है वह कहते हैं कि तुम्हारा सुंदरम वापस आ गया है इसलिए भगवान जल्दी मेरी आंखें ठीक करें ताकि मैं अपने बेटे को देख सकूं।

यह सुनकर जेम्स की आंखों से आंसू निकल आते है और वो कहता है कि तुम्हारी आंखें बहुत ही जल्दी ठीक हो जाएंगी

मां और तुम मुझे महसूस भी कर पाओगे लेकिन अफसोस की कभी मुझे देख नहीं पाओगी।

इतना कहकर जेम्स उस घर की दहलीज को पार करके वहां से निकल जाता है और हम देखते हैं कि James के जाने के बाद भी James की परछाई यानी सुंदरम की आत्मा वहीं अपने घर में रह जाती है घर से निकलते ही जेम्स अचानक बदल जाता है यानी अब वो सुंदरम से आज़ाद हो चुका था वो अचानक तमिल से मलयालम भाषा में बोलने लगता है और अपने कपड़ों को देखकर हैरान हो जाता है ।

नानपाकल नेराथु मायक्कम,(nanpakal nerathu mayakka movice Review in hindi

दूर खड़े अपने बेटे और बीवी को देखकर उनसे पूछता है कि आखिर हम इस गांव में क्या कर रहे हैं? ये देखकर दोनों गांव के लोग समझ जाते हैं कि जेम्स ठीक हो चुका है।

इसके बाद James अपनी बीवी और बच्चे के साथ सभी को लेकर वापस केरल के लिए निकल पड़ता है और यही होता है movie का the end.

तो दोस्तों, आप सोच रहे होंगे कि यह एक movie है, लेकिन यह एक सच्ची कहानी है जो आज से करीब दस साल पहले तमिलनाडु में घटी थी और इसके ऊपर movie ही नहीं, विज्ञापन भी बन चुके हैं।

Director ने तो कुछ सवाल हमारे लिए छोड़ दिए हैं. ठीक वैसे ही जैसे चुरुली movie में छोड़े थे आपको क्या लगता है? इस movie का कौन सा सवाल है जिसका जवाब हमें नहीं मिला?

हमें comment करके बताएं साथ ही ये movie आपको कैसी लगी? और क्या आप ऐसी movie देखना पसंद करते हैं?हमें comment करके ज़रूर बताएं।

Leave a Comment

Little Known Facts about Black Cats Top 10 Historical Facts that happened in London Wealthiest Pets in the World 10 Famous Historical events that happened in Poland 10 Amazing Facts About The Portuguese flag These Towns In North Carolina Come Alive In Winter Unforgettable Small Towns To Visit In Rhode Island
Little Known Facts about Black Cats Top 10 Historical Facts that happened in London Wealthiest Pets in the World 10 Famous Historical events that happened in Poland 10 Amazing Facts About The Portuguese flag